आज से बदल गए हैं रेलवे के ये नियम, आप भी जान लीजिए

kiraya

पटना [जेएनएन]। भारतीय रेल ने 1 जुलाई से अपने उपभोक्ताओं के लिए सेवा विस्तार और सुविधाओं में बदलाव करने जा रही है। इसके चलते तमाम यात्रियों को रेलवे की सेवा कुछ बदली नजर आ सकती है। इस तारीख से रेलवे की आरक्षण प्रक्रिया में नए नियम लागू होने जा रहे हैं।
क्षेत्रीय भाषाओं में भी मिलेंगे टिकट
बदले नियमों के तहत 1 जुलाई से ऑनलाइन से वेटिंग टिकट नहीं मिलेगा। साथ ही शताब्दी, राजधानी जैसी दूसरी कई अन्य ट्रेनों में कोचों की संख्या बढ़ाई जाएगी। तत्काल टिकट का आरक्षण रद्द करवाने पर अब आधा रिफंड यात्रियों को मिलेगा। इसके साथ ही यात्रियों की मांग पर क्षेत्रीय भाषाओं में भी टिकट मिलेंगे।

 

सुविधा ट्रेनों में यात्रियों को वेटिंग टिकट नहीं मिलेगा
रेलवे पहले ही ऐलान कर चुका है कि 1 जुलाई से राजधानी, शताब्दी, दुरंतो और मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों की तर्ज पर सुविधा ट्रेनें चलेंगी। ये ट्रेनें देश के महत्वपूर्ण व व्यस्त रूटों पर प्रीमियम ट्रेनों को बंद कर उनकी जगह चलाई जाएंगी। सुविधा ट्रेनों में यात्रियों को वेटिंग टिकट नहीं मिलेगा। इन ट्रेनों में सभी को कन्फर्म टिकट दिया जाएगा।

 

टिकट रद्द कराने पर आधा पैसा वापस मिलेगा और कोच के हिसाब से चार्ज होगा। एसी फर्स्ट और सेकेंड का टिकट रद्द कराने पर 100 रुपये अतिरिक्त काटे जाएंगे। एसी थर्ड के लिए 90 रुपये और स्लीपर क्लास का टिकट रद्द कराने पर 60 रुपये अतिरिक्त काटे जाएंगे।

 

तत्काल टिकट रद्द होने पर वापस मिलेगा 50 फीसदी किराया
तत्काल टिकट रद्द कराने पर अब 50 फीसद किराए की रकम वापस मिलेगी। यानी अब पूरे पैसों का नुकसान नहीं उठाना पड़ेगा। इतना ही नहीं, रेलवे टिकट खिड़की की भांति ही यात्री ऑनलाइन तत्काल टिकट बुक कर पाएंगे। एसी क्लास के लिए तत्काल टिकट की बुकिंग सुबह 10 से 11 और स्लीपर क्लास के लिए 11 से 12 बजे के मध्य ही होगी।

राजधानी-शताब्दी में बढ़ेंगे कोच

 

विस्तृत खबरें वेबसाइट:
http://www.jagran.com/bihar/patna-city-from-today-railway-changed-the-rules-and-regulations-know-about-it-16289327.html
पर मौजूद हैं !!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *